High AMH ka kya hai treatment!

High AMH का इलाज

2 to 4 नैनोग्राम प्रति मिलीलीटर 4 नैनोग्राम से अधिक हो तो उसको मेडिकल की भाषा में High AMH कहते हैं।

इसकी ट्रीटमेंट कि यदि हम बात करें आधुनिक चिकित्सा में आईवीएफ के अलावा इसकी कोई दूसरी चिकित्सा नहीं है परंतु आयुर्वेद में इसकी चिकित्सा का वर्णन बहुत ही विस्तार के रूप में दिया हुआ है पहले इसको हम समझेंगे कि जबआखिर होता क्यों है 4 नैनो ग्राम से बढ़कर 16 17 नैनोग्राम तक भी जाते देखा गया है इसमें सबसे बड़ी समस्या आती है की ओवेरियन रिजर्व तो अच्छा होता है मतलब ओवरी में एग की संख्या तो अधिक होती है

परंतु फॉलिकल मैं से अच्छा एग परिपक्व होकर नहीं निकल पाता है प्रत्येक महीने हर स्त्री को एक परिपक्व होकर निकलता है उसके लिए करीब-करीब 500 से 600 फॉलिकल की रेस होती है उसमें से मैच्योर हो कर एक ही एग निकल पाता है परंतु क्योंकि परिपक्व होकर एक भी फॉलिकल नहीं निकलता है तो संतान नहीं हो पाती है

चिकित्सा (Treatment)

चरक संहिता में भी चिकित्सा का वर्णन है इसका बहुत अच्छा उल्लेख मिलता है भैषज्य रत्नावली में दिया हुआ कुमार कल्प ध्रत शतावरी घृत का वर्णन एवं शतावरी का प्रयोग दशमूल का प्रयोग, हमारी ऋषि यों ने हजारों साल पहले ही कर दिया था।जिसका प्रयोग करके महाऋषियो के अनुभवों का उपयोग अपनी समस्या के समाधान के लिए किया जा सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *